नई दिल्ली. दिल्ली की तीनों नगर निगमों के 1 लाख से ज्यादा कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं. इन कर्मचारियों में करीब 60 हजार सफाई कर्मचारी भी शामिल हैं. यानि कि दिल्ली वाले एक बार फिर से कूड़ाघर में जीने के लिए तैयार हो जाएं.

सवाल उठता है कि ये नौबत बार बार क्यों आ रही है. पिछले साल भी दो बार सफाई कर्मचारी हड़ताल पर गए थे. जब दुर्गंध से दिल्ली की सड़कों पर निकलना दूभर हो गया, तब जाकर दिल्ली सरकार ने सफाई कर्मचारियों के पैसे दिए.

इस बार भी कर्मचारियों को तीन महीने से वेतन नहीं मिला है और इस बार तो सफाई कर्मचारियों के साथ टीचर, डॉक्टर, नर्स, इंजीनियर और तमाम कर्मचारी हड़ताल में शामिल हैं. ऐसे में दिल्ली का क्या हाल होगा, आप सोच सकते हैं. सवाल उठता है कि दिल्ली को इस हालत में पहुंचाने का जिम्मेदार कौन है ?

वीडियो में देखें पूरा शो