Hindi ardh-satya Uri terrorist attack, India, pakistan, terrorists, Pakistan Army, Indian Army, special Kanmmando, Home Office, all-party meeting, Congress, Ghulam Nabi Azad, Modi government, terror camps, Lashkar -tayba, special commandos, Defence Minister, Manohar Parrikar, NSA, Ajit Doval, DGMO, Surgical Strike, LOC, Surgical Strike by India, Line of Control, DMRO, India News, Surgical Strikes in Pakistan, Breaking News, jammu and kashmir, Rana Yashwant, ArdhSatya http://www.inkhabar.com/sites/inkhabar.com/files/field/image/full-truth-of-surgical-operation-in-PoK-rana-yashwant-show-ardhsatya.jpg

अर्ध सत्य: PoK में सर्जिकल ऑपरेशन का पूरा सच

अर्ध सत्य: PoK में सर्जिकल ऑपरेशन का पूरा सच

    |
  • Updated
  • :
  • Sunday, October 2, 2016 - 18:55

full truth of surgical operation in PoK rana yashwant show ardhsatya

अर्ध सत्य: PoK में सर्जिकल ऑपरेशन का पूरा सचfull truth of surgical operation in PoK rana yashwant show ardhsatyaSunday, October 2, 2016 - 18:55+05:30
नई दिल्ली. भारतीय सेना के स्पेशल पारा कमांडोज की सात से आठ टुकड़ियां चार जगहों से PoK में घुसी. पहली जगह पुंछ यहां से एक टुकड़ी तातापानी कैंप के पास पहुंची. खबर है कि तीन टीमें नौशेरा के नजदीक से पीओके में घुसी और उसने भिंबर टेरर कैंप को घेर लिया. कुपवाड़ा के ठीक सामने से दो टीमें करीब 2 किलोमीटर कीचड़ और पथरीले रास्तों से रेंगकर पहुंची और लिपा आतंकवादी कैंप को घेरा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मेंढर और माछिल से इंडियन आर्मी के पारा कमांडो की दो टीमें केल टेरर कैंप तक पहुंची। इस तरह चार रास्तों से 150 से अधिक कमांडो 3 किलोमीटर पर तक पैदल, कीचड़ में, और नदी के किनारे पत्थरों पर चलते हुए कई जगहों पर पाकिस्तानी सेना के लैंडमाइंस को पार करते हुए चारों आतंकी कैंप को चक्रव्यूह की तरह घेर लिए. रात में करीब ढाई बजे अचानक चारों तरफ से इन पारा कमांडोज ने हमला बोल दिया.
 
ख़बर है कि करीब 2 घंटे तक ये ऑपरेशन चला और इस घंटे में चारों जगहों पर आतंकवादियों के 7 कैंप तबाह हो गए. भारतीय सेना कह रही है कि पाकिस्तान का हैवी डैमेज हुआ है. हालांकि मारे गए आतंकियों की कोई पक्की संख्या नहीं बताई जा रही. लेकिन सूत्र बता रहे हैं  मरने वाले आतंकियों की संख्या 50 तक हो सकती है. जिसमें कुछ पाकिस्तान रेंजर्स के जवान भी हो सकते हैं. ये संख्या तब है जब इस इलाके में मौजूद 12 से ज्यादा आतंकी कैंप में से सिर्फ 7 को टारगेट किया गया. क्योंकि खुफिया खबरें इन्हीं के बारे में पक्की थी. 
 
भारतीय सेना की इन पारा कमांडोज को दुनिया के टॉप थ्री कमांडोज में गिना जाता है. जिसकी सबसे बड़ी खूबी है मुश्किल से मुश्किल और कभी कभी नामुमकिन से लगनेवाले ऑपरेशन को पूरा कर लेना. ऐसा नहीं कि इसमें शामिल जवान केवल आर्मी से चुने जाते हैं. सेना,पारा मिलिट्री के किसी भी विंग का जवान पैरा कमांडो की टुकड़ी का हिस्सा बन सकता है.
 
कोई जवान चाहे तो अपनी मर्जी से इस टुकड़ी का हिस्सा बनने के लिये खुद को ताकत में लोहा और फुर्ती में चीते जैसा साबित कर पैरा कमांडो बन सकता है. लेकिन यह भी सच है कि सेना की किसी एक यूनिट से ज्यादा जवान पैरा कमांडोज के लिए नहीं लिए जाते, क्योंकि ज्यादातर मौके पर इनका इस्तेमाल खुफिया ऑपरेशन में किया जाता है. 
 
इस ताजा मुद्दे पर जानिए पूरा सच इंडिया न्यूज के मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत के साथ खास शो "अर्ध सत्य" में.   
 
वीडियो क्लिक करके देखिए पूरा शो
First Published | Sunday, October 2, 2016 - 18:17
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
(Latest News in Hindi from inKhabar)
Disclaimer: India News Channel Ka India Tv Se Koi Sambandh Nahi Hai

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.