नई दिल्ली. भारतीय स्वयंसेवक संघ पिछले 5 सालों में जिस रफ्तार से बढ़ा है ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है. रिपोर्ट्स के मुताबिक एक साल में संघ ने 6500 से ज्यादा शाखाएं शुरु की हैं. साथ ही 91 सालों के सफर में आज संघ सबसे ज्यादा ताकतवर और प्रभावशाली है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जानकारी के अनुसार संघ में मुस्लिम छात्र भी भारी संख्या में दाखिला ले रहे हैं. एक अनुमान के मुताबिक केंद्र में मोदी सरकार के आने के बाद इन स्कूलों में मुस्लिम छात्रों की संख्या में 30 फीसदी का इजाफा हुआ है.
 
संघ की शाखाओं की बात की जाए तो दुनिया भर में संघ की 39 शाखाएं हैं. संघ के सरस्वृति शिक्षु मंदिर और सरस्वृति विद्या मंदिर में बच्चों के दाखिलों की संख्या बढ़ती जा रही है. वहीं उत्तर प्रदेश की बात की जाए जहां अगले साल ही विधानसभा चुनाव है वहां संघ के 1200 स्कूल हैं और 2 साल में संघ के स्कूलों में 7000 मुस्लिम बच्चों ने दाखिला लिया है.
 
इसमें सबसे दिलचस्प बात यह है कि ये सभी मुस्लिम छात्र दिन की शुरुआत ‘सूर्य नमस्कार’ और ‘वंदे मातरम’ के साथ करते हैं, साथ ही वैदिक मंत्रोच्चारण भी करते हैं. रिपोर्ट के अनुसार आरएसएस के इन स्कूलों में कक्षा 12वीं तक मुस्लिम समुदाय के 4672 लड़के और 2218 लड़कियां पढ़ाई कर रहे हैं.
 
अब सवाल उठ रहा है कि क्या मोदी सरकार के सता में आने की वजह से संघ की ताकत बढ़ी है. इंडिया न्यूज के खास शो ‘अर्ध सत्य’ में संघ क्या करता है उसका मिशन और नीति-रीति क्या है इसकी जानकारी लोगों तक पहुंचाने की कोशिश की गई है. साथ ही एक सच यह भी है कि मोदी सरकार के कार्यकाल में संघ के चाल, चरित्र और उसके एंजेडें को समझने की कोशिश की गई है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
इंडिया न्यूज के मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत आज आपको बताएंगे कि संघ का इतिहास क्या है और साथ ही मोदी सरकार के कार्यकाल में उसका क्या एजेंडा है.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो