नई दिल्ली. बिहार में नीतीश सरकार ने पूर्ण शराबबंदी लागू कर दी है जिसे एक सकारात्मक कदम बताया जा रहा है. लेकिन शराब किस तरह आदमी को खोखला करती है यह जानना बहुत जरूरी है. अकेला बिहार ऐसा राज्य है जहां 23 लाख लीटर लोग शराब पी जाते हैं और सरकार को 4 हजार करोड़ का राजस्व भी शराब से ही मिलता था.
 
पूरे देश के आकंड़ों को देखा जाए तो शराब की खपत से लेकर इसके इस्तेमाल करने में भारत दुनिया में तीसरे नंबर पर आता है. यहां सालाना 19 अरब लीटर शराब की खपत की जाती है वहीं 1.5 लाख करोड़ का सालाना धंधा किया जाता है. हैरान करने वाली बात है कि देश में 48 फीसदी देसी शराब का इस्तेमाल किया जाता है वहीं बीयर 13 फीसदी इस्तेमाल की जाती है.
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘अर्ध सत्य’ में मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत आज आपको बताएंगे कि शराब देश और परिवार को किस हद तक प्रभावित करती है. साथ ही बिहार में शराबबंदी के बाद क्या हालात हैं?
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो