नई दिल्ली. पिछले दिनों असहिष्णुता पर बयान देकर बॉलीवुड स्टार आमिर खान काफी विवादित रहे है. उन्होंने पत्रकारों को दिए जाने वाले एक अवॉर्ड समारोह में यह कहकर सुर्खियां बटोरीं कि देश में बिगड़ते माहौल को देखकर उनकी पत्नी बच्चों की सुरक्षा के लिए देश छोड़ने की सोच रही है.
 
 
हालांकि बाद में काफी विवाद उठने पर उन्होंने साफ कहा कि वह अपने बयान पर कायम है लेकिन देश नहीं छोड़ेंगे. वह भारत के नागरिक हैं और इसके लिए उन्हें देशभक्ति सर्टिफिकेट दिखाने की जरुरत नहीं है. अगर इसी बयान के बाद हम यह सोचे कि आमिर खान जिन मुद्दों को हमेशा उठाते रहें हैं, क्या वैसी ही वह अपने गांव अख्तियारपुर को आगे बढ़ा सके हैं?
 
इंडिया न्यूज के मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत इसी का जायजा लेने आमिर के पैतृक गांव अख्तियारपुर(उत्तर प्रदेश के हरदोई में) पहुंचे जहां आमिर का पुश्तैनी मकान, जमीन और बाग हैं. वे बताते हैं कि जिन मुद्दों पर आमिर एक मिशन की तरह हैं उन्हीं मुद्दों पर अख्तियारपुर में किसी तरह का बदलवा नहीं हुआ है.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए राणा यशवंत के साथ अर्ध सत्य: