नई दिल्ली. पूर्ण बहुमत लेकर मोदी सरकार जब से सत्ता में आई है तब से ‘गंगा नदी’ की स्वच्छता उनके एजेंडे में शामिल है.‘नमामि गंगे योजना’ इसी के लिए लाई गई और 20,000 करोड रुपए का बजट आवंटित किया गया.

लेकिन अब अगर गंगा की सफाई और संरक्षण से जुड़े कदमों की पड़ताल करे तो ऐसा लगता है कि सरकार ने करोड़ो बस यूं ही लुटा दिए. गंगा साफ तो हो नहीं रही पर मैली जरुर हो रही है.

वीडियो पर क्लिक करके देखिए शो: