लखनऊ. भारत में एक नई तरह की रवायत आकार ले रही है. ये रवायत है दागदारों को बचाने के लिए दस्तावेज़ों को खत्म कर देने की. आए दिन खबरे मिलती हैं, कि किसी सरकारी दफ्तर में आग लग गई, और फाइलें नष्ट हो गईं या फिर महत्वपूर्ण दस्तावेज़ों को चूहे खा गए.
 
यहां तक तो फिर भी चीज़ें समझ में आती हैं मगर लखनऊ के सचिवालय में जिस तरह से दस्तावेज़ों को कुत्तों ने बर्बाद किया. उसने सोचने पर विवश कर दिया कि आखिर इस मुल्क में लापरवाही की इंतेंहा क्यों होती जा रही है? घटना 7 अगस्त का है. जब बरसते सावन की खुमारी में सचिवालय के कर्मचारी इस कदर खोए थे कि सचिवालय के शिक्षा अनुभाग 9 और कार्मिक विभाग के कमरे में कुत्ते घुस गए हैं.
 
कर्मचारियों ने दिन ढलने के बाद दरवाज़ा बंद किया और चले गए. अगले दो दिन यानी शनिवार और रविवार को सचिवालय बंद रहा. सोमवार को जब सुबह साहबों ने दरवाज़ा खोला..तो कूं-कूं करते हुए कुत्ते बाहर निकल गए.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरी रिपोर्ट: